आज सागर में बुंदेलखंड मेडिकल के स्टाफ ने धरना प्रदर्शन जारी रखा 8 मैं दिन तक एवं रक्तदान किया

Nature Nature
0 130

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में नर्सिंग कर्मियों द्वारा 8 से 10 संपूर्ण कार्य बहिष्कार के साथ रक्तदान कार्यक्रम हड़ताल का आठवां दिन

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज सागर में विगत 8 दिनों से नर्सिंग स्टाफ का धरना प्रदर्शन आंदोलन लगातार जारी है परंतु यूं कहे कि शासन-प्रशासन तक आज दिनांक तक nursing कर्मचारियों की मांग नहीं पहुंची है या फिर इसको अनसुना किया जा रहा है शासन प्रशासन ने हड़ताल के लगातार आठवें दिन तक नर्सिंग स्टाफ की मांगों का निराकरण नहीं किया है ना इनके सुध है प्रशासन अंधा गूंगा बहरा बनकर बैठा हुआ है
हम बात कर रहे हैं बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज सागर के नर्सिंग स्टाफ की जो विगत 8 दिन से बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज परिसर में धरना प्रदर्शन हड़ताल कर रहे हैं nursing कर्मचारियों का यह चरणबद्ध आंदोलन चल रहा है आंदोलन धरना प्रदर्शन के आठवें दिन बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के कोविड-19 स्वास्थ्य संगठन के अस्थाई नर्सिंग स्टाफ और समस्त स्थाई संविदा nursing staff द्वारा प्रातः काल 8:00 से 10:00 बजे तक संपूर्ण कार्य बंद कर कार्य बहिष्कार करते हुए विशाल धरना प्रदर्शन नारेबाजी की गई बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के मुख्य द्वार पर ओपीडी के सामने करीब 300 nursing staff द्वारा बैठकर तेज नारेबाजी की गई तथा सरकार विरोधी नारे भी लगाए गए बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के नर्सिंग स्टाफ द्वारा अपनी मांगे मनवाने के समर्थन में नारेबाजी भी की गई तथा पाली ढपली भी बजाई गई बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में नर्सिंग स्टाफ के धरना प्रदर्शन को कोविड-19 स्वास्थ्य संगठन जिला सागर nursing छात्र संगठन सागर नर्सेज एसोसिएशन सागर के संयुक्त तत्वाधान में जो धरना प्रदर्शन हड़ताल की जा रही है उसमें संपूर्ण कार्य बहिष्कार के उपरांत बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज परिसर में ही एक रक्तदान कार्यक्रम का आयोजन किया गया nursing staff द्वारा मोबाइल ब्लड डोनेशन यूनिट में सभी ने सरकार की सद्बुद्धि और मानव कल्याण हेतु रक्तदान किया और अपना विरोध दर्ज करवाया नर्सेज एसोसिएशन की जिला अध्यक्ष श्रीमती किरण तिवारी बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज सागर द्वारा बताया गया कि हम लगातार दिन से बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज BMC परिसर में धरना प्रदर्शन कर रहे हैं परंतु शासन प्रशासन हमारी मांगों को अनसुना कर रहा है हमें अपना हक और अधिकार नहीं दिया जा रहा हमारी जो मांगे हैं जैसे कि श्रम से nursing staff को ग्रेड 2 के पद पर नियुक्त किया जाए जैसा कि अन्य राज्य में nursing staff के लिए निर्धारित किया गया है
कोरोना महामारी के दौरान अस्थाई तौर से नियुक्त nursing staff मेल फीमेल को संविदा नियमित पदों पर संविलियन किया जाए
मेल नर्स की भर्ती सामान तौर पर किया जाए
सभी को उच्चतम वेतनमान निर्धारित किया जाए
पुरानी पेंशन बहाल की जाए
आउट सोर्स या प्राइवेट एजेंसी में ठेका के माध्यम से रखेगा नर्सिंग कर्मियों को विभाग में उचित पद पर संविलियन किया जाए
Nursing staff का पदनाम केंद्र और अन्य राज्यों के समान नर्सिंग ऑफिसर किया जाए
साथ ही साथ चिकित्सा शिक्षा विभाग और स्वास्थ्य विभाग में की जाने वाली भर्ती में मेल फीमेल को सामान तौर से समान अवसर प्रदान करते हुए 12वीं बायोलॉजी पास की अनिवार्यता समाप्त कर भर्ती GNM और बीएससी नर्सिंग के आधार पर ही की जाए
एम्स में 18:20 का जो लिंग आधारित भेदभाव किया जाता है उसे सम्मान किया जाए सभी को समान अवसर प्रदान किया जाए प्राइवेट हॉस्पिटल में नियुक्त नर्सिंग स्टाफ को न्यूनतम वेतनमान ₹20000 सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार दिया जाए एक विशेष कानून बनाकर
कॉविड़ महामारी के अस्थाई पैरामेडिकल nursing स्टाफ को संविदा संविलियन किया जाए
सहित अन्य मांगे नर्सिंग स्टाफ की है इन्हें शासन प्रशासन द्वारा शीघ्र ही पूरा किया जाना चाहिए

नर्सेज एसोसिएशन के मीडिया प्रभारी राकेश नागर जी द्वारा बताया गया कि 8 दिन आज हड़ताल के हम लोगों की पूरे हो चुके हैं मगर शासन प्रशासन हमारी सुध नहीं लेता है यदि शासन हमारी मांगों को नहीं मानता है तो हम आगे प्रदेश व्यापी उग्र आंदोलन अनिश्चितकाल के लिए बाध्य होंगे जिसकी संपूर्ण जवाबदारी शासन प्रशासन की होगी
बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में हड़ताल धरना प्रदर्शन के दौरान रामकुमार साहू जिला अध्यक्ष कोविड-19 स्वास्थ्य सेवा संगठन
रोहित साहू शिवकुमार वीरसिंग प्रजापति राहुल चौरसिया नर्सिंग छात्र संगठन जिला अध्यक्ष रोहित चौरसिया देवी सिंह राय Rahul vishwakarma सेहत बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज का समर्थन नर्सिंग स्टाफ नर्सिंग छात्र संगठन Sagar के समस्त कार्यकर्ता कोविड-19 स्वास्थ्य संगठन के समस्त नर्सिंग स्टाफ सहित विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी उपस्थित रहे….।।।। इंडिया न्यूज़ 24 प्रधान संपादक सागर से रामगोपाल कुशवाहा की स्पेशल रिपोर्ट

Nature Nature